Category: Baby food Recipes

6 से 12 माह के बच्चे को क्या खिलाएं

By: Salan Khalkho | 6 min read

शिशु जब 6 month का होता है तो उसके जीवन में ठोस आहार की शुरुआत होती है। ऐसे में इस बात की चिंता होती है की अपने बच्चे को ठोस आहार में क्या खाने को दें। जानिए 6 से 12 माह के बच्चे को क्या खिलाएं

6 से 12 माह के बच्चे को क्या खिलाएं baby food शिशु आहार

सबसे पहले

यह जाने की 6 से 12 माह के बच्चे के लिए अभी भी माँ का दूध ही सबसे महत्वपूर्ण और मुख्या शिशु आहार (baby food) होना चाहिए। 



For Readers: Diaper पे भारी छुट (Discount) का लाभ उठायें!
Know More>>
*Amazon पे हर दिन discount और offers बदलता है| जरुरी नहीं की यह DISCOUNT कल उपलब्ध रहे|


माँ के दूध से ही बच्चे को उसकी जरुरत का सभी पोषक तत्त्व मिलता है। 

बच्चे को जो ठोस आहार आप देती हैं, उसे तो आप सिर्फ बोनस ही समझिये। 

इसका मतलब यह है की 6 से 12 माह के बच्चे में का ठोस आहार तो शुरू किया जाता है - मगर फिर भी उसके लिए माँ का दूध ही मुख्य आहार है और पोषक तत्त्व का मुख्या स्रोत। 

जब तक की आप का बच्चा १२ महीने से बड़ा ना हो जाये - उसे भरपूर मात्रा में स्तनपान कराते रहें। 

शिशु का पहला आहार दूध और चावल से बना हो तो बेहतर है। यह पचने में भी आसान है और इससे शिशु को एलेर्जी होने का कोई डर नहीं होता है। 

जब शिशु छह महीने का होता है तो इस बात की चिंता होती है की शिशु को क्या खाने को दिया जाये जिससे की उसका उचित शारीरिक और मानसिक विकास हो सके।  

6 से 12 माह के बच्चे को क्या खिलाएं 

  1. शिशु को चावल से बने आहार जैसे की खीर, खिचड़ी और चावल का पानी दें। चावल से शिशु को इसी भी प्रकार के एलेर्जी होने की सम्भावना बेहद कम होती है। यह आसानी से पच जाता है। इसमें प्रोटीन और कार्बोहायड्रेट दोनों होता है जिस वजह से यह शिशु को ताकत तो देता ही है, उसके मांसपेशियोँ के विकास में भी योदान देता है। 
  2. शिशु को मुंग दाल का पानी भी आप दे सकते हैं। इस भी बच्चे के लिए बहुत पौष्टिक है। 
  3. चावल और दाल से बच्चे को महत्वपूर्ण विटामिन और मिनरल्स मिलते हैं। इससे शिशु को आयरन भी मिलता है जो उसके शरीर में रक्त बनने में सहायता करता है और बच्चे के रोग प्रतिरोधक छमता को भी बढ़ाता है। 
  4. बच्चे को आप फल जैसे की सेब, केला और अवोकेडो खाने को दे सकते हैं। शिशु को फलों के छिलके छील के दें। बच्चे फलों के छिलके को पचाने में असमर्थ होते हैं। 
  5. सब्जियों की प्यूरी भी आप बना के दे सकती हैं। लेकिन सब्जियों को इतना छोटा ना काट के दें की बच्चे के गले में फस जाये। शिशु को आप गाजर और अंगूर दे सकती हैं। 

यह भी पढ़ें:

6 से 12 माह के बच्चे को क्या नहीं खिलाएं

  1. एक साल से पहले बच्चे को सहद ना खिलाएं। चखाएं भी नहीं। इसमें एक तरह का जीवाणु (bacteria) होता है जो बड़ों पे प्रभावी नहीं है लेकिन बच्चों के लिए बहुत खतरनाक है। 
  2. शिशु को एक साल से पहले गाए के दूध से बने आप दे सकते हैं जैसे की पनीर, दही और खीर। मगर शिशु को एक साल से पहले गाए का दूध ना पिलायें। शिशु विशेषज्ञों का कहना है की गाए का दूध बच्चे ठीक तरह से पचा नहीं पते हैं। गाए का दूध देने पे बच्चे के potty में microscopic bleeding देखने को मिल सकता है। 
  3. शिशु को मछली खाने के लिए महीने में सिर्फ एक बार ही दें। मछली में mercury की मात्रा इतनी होती है की जो बच्चे के शारीरिक और मानसिक विकास को प्रभावित कर सकती है। 
  4. बच्चे को फलों का जूस ना दें। इसके बदले बच्चों को आप फलों की प्यूरी दे सकते हैं। फलों की प्यूरी से बच्चों को fiber और अनेक प्रकार के मिनरल्स और विटामिन्स मिलेंगे जो जूस में नहीं मिल पायेगा। जूस में चीनी की मात्रा बहुत ज्यादा होती है। शोध में पाया गया है की जिन बच्चों को बचपन में अत्यधिक चीनी खाने को मिला उन बच्चों को आगे के जिंदगी में स्वस्थ्य समस्याओं का सामना करना पड़ा। 


वीडियो: 6 से 12 माह के बच्चे को क्या खिलाएं इस वीडियो में देखें। 

Most Read

Other Articles

Footer