Category: स्वस्थ शरीर

कैसे करें बच्चों के दाँतों की सुरक्षा

By: Vandana Srivastava | 11 min read

बच्चों को दातों की सफाई था उचित देख रेख के बारे में बताना बहुत महत्वपूर्ण है। बच्चों के दातों की सफाई का उचित ख्याल नहीं रखा गया तो दातों से दुर्गन्ध, दातों की सडन या फिर मसूड़ों से सम्बंधित कई बिमारियों का सामना आप के बच्चे को करना पड़ सकता है।

dental and oral care in children

दातों का दर्द (toothache) बड़ा पीड़ा दायक होता है। अगर आप के बच्चे को दर्द हो तो दर्द आप को भी होगा। मै एक मां हूँ और समझ सकती हूँ। इसी लिए मेरी यह कोशिश रहती है की मेरे बच्चे की हर चीज़ सुरक्षित रहे। 

मै अपने बढ़ते बच्चों के दाँत की सुरक्षा (adequate dental care) की ज़िम्मेदारी खुद ली है। 

अगर आप एक माँ हैं तो आप भी यही चाहेंगी की आप के बच्चों के दांत सुरक्षित और स्वस्थ रहें। 

बच्चों के सुरक्षित और स्वस्थ दातों (safe and healthy dental care) को सुनिश्चित करने के लिए निचे दिए गए कुछ टिप्स आप की मदद करेंगे (tips that will ensure total oral care of your child)।  

इस लेख में आप सीखेंगे - You will read in this article

  1. दाँतों की सुरक्षा
  2. दाँत का दर्द कैसे दूर करें
  3. Video: दांत स्वस्थ रखने के लिए बच्चों को क्या खिलाएं

दाँतों की सुरक्षा 

  1. हमेशा मुलायम ब्रिस्टल वाले टूथब्रश, अपने बच्चे को प्रयोग करने को दें।
  2. अपने बच्चे के दाँतों को कम से कम दो बार ब्रश करें।
  3. जब भी आप अपने बच्चे को ब्रश करवाएं तो जल्दबाजी न करें तथा अच्छे से सफाई करने के लिये पर्याप्त समय लें और यही अपने बच्चे को सिखाएं।
  4. अपने बच्चे को खाने के बाद कुल्ला करके मुँह को साफ करने को कहें।
  5. अच्छे फ्लोराइड टूथपेस्ट और मुलायम ब्रिस्टल वाले टूथब्रश ही अपने बच्चे को प्रयोग करने को दें।
  6. अच्छी और आसान तकनीक का प्रयोग करें।
  7. अपने बच्चे के टूथब्रश को उसके दाँतों से हल्के कोण पर पकड़ाएं।
  8. आगे और पीछे करते हुए अपने बच्चे को ब्रश करवाएं।
  9. उसके दाँतों की भीतरी और चबाने वाली जगहों पर और जीभ पर ब्रश करवाना ना भूलें।
  10. तेजी से न रगड़े नहीं तो बच्चे के मसूढ़े पर चोट लग सकती है।
  11. अपने बच्चे का टूथब्रश हर तीन से चार महीने पर बदलें या जब उसका ब्रिस्टल फैल जाएँ तब उसको बदलें।
  12. बच्चे का मुँह सूखने पर उसे शक्कर रहित चुइंग गम खाने को दें।
  13. अपने बच्चे को टूथपेस्ट मटर के आकार जितनी मात्रा में दें।
  14. अपने बच्चे को ब्रश करने के बाद मंजन को थूक देने के लिये कहें।
  15. हमेशा अपने बच्चे को बिना अल्कोहल वाले माउथवाश का प्रयोग करने को कहें क्योंकि अल्कोहल से युक्त माउथवाश से जीरास्टोमिया हो जाता है।
  16. बच्चे के जिव्हा को साफ रखने के लिये टंग क्लीनर का प्रयोग करें या फिर आप टूथब्रश का भी प्रयोग कर सकतें हैं।

teaching proper oral care in children

दाँत का दर्द कैसे दूर करें 

  1. अगर दाँत में दर्द हो रहा है तो लौंग के तेल का प्रयोग करें, इसके उपचार के लिए। दाँत के दर्द को दूर करने के लिए, लौंग के तेल को काली मिर्च के पाउडर में अच्छे से मिलाएं और फिर उसे दर्द वाले दाँत पर लगाएं।
  2. दाँत का दर्द दूर करने के लिए आप सरसों का तेल का भी प्रयोग कर सकतें हैं। इसे एक चुटकी भर नमक के साथ मिला कर,  मसूढ़े के प्रभावित जगह पर मालिश करते हुए लगाएं।
  3. नींबू का रस भी आपके बच्चे के दाँत के दर्द को दूर कर सकता है।
  4. कटे प्याज के टुकड़े को मसूढ़े या दाँत के प्रभावित जगह पर लगाएं, इसे आपके बच्चे का दर्द काफी हद तक कम हो सकता है।
  5. कैलेंडुला, माइर और सेग का उपयोग करते हुए आप अपने बच्चे के लिए एक प्रभावी जड़ी - बूटी से युक्त माउथ वाश बना सकती हैं, जिससे आपके बच्चे के दाँत का दर्द कम हो जायेगा।
  6. बर्फ के टुकड़े से भी आप अपने बच्चे का दाँत बाहर से सेंक सकती हैं,  दाँत का दर्द दूर करने के लिए यह एक प्रभावी उपाय है।
  7. अगर आपका बच्चा दाँत के दर्द से प्रभावित हैं, तो आप उसे अत्यधिक गरम, ठंडी अथवा मीठी चीजों से परहेज करवाएं।
  8. आप अपने बच्चे के खान - पान के प्रति सतर्कता बरकते हुए, उसे सब्जियां, फल अथवा अन्य चीजें अधिक मात्रा में दें। 
  9. अपने बच्चे को जंक फूड की परहेज़ करवाएं।

इस प्रकार से आप अपने बच्चे के दाँत दर्द से छुटकारा पा सकती हैं अथवा यह सुनिश्चित कर सकती हैं कि उसका दाँत पूर्ण रूप से सुरक्षित हैं।

Video: दांत स्वस्थ रखने के लिए बच्चों को क्या खिलाएं - What to feed children for healthy teeth and gum

Comments and Questions

You may ask your questions here. We will make best effort to provide most accurate answer. Rather than replying to individual questions, we will update the article to include your answer. When we do so, we will update you through email.

Unfortunately, due to the volume of comments received we cannot guarantee that we will be able to give you a timely response. When posting a question, please be very clear and concise. We thank you for your understanding!



प्रातिक्रिया दे (Leave your comment)

आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं

टिप्पणी (Comments)



आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा|



Most Read

Other Articles

Footer